Browsing Tag

गौरी लंकेश एक निर्भीक आवाज़

लंकेश अक्सर अपने संपादक से पूछती थीं कि उनके अख़बार ने उन मुद्दों को लेकर मजबूत रुख क्यों नहीं अपनाया जो उनके दिल के क़रीब है. ''अगर आप प्रभावी लोग ठोस क़दम नहीं उठा सकते तो हम इसे कैसे करेंगे?'' गौरी लंकेश एक निर्भीक आवाज़ थीं जिसे ख़ामोश कर दिया गया. दक्षिण भारत के जिस शहर बंगलुरू में वह रहती थीं…
Read More...