MP चुनाव: देवसर सीट पर 15 साल से BJP का दबदबा

मध्य प्रदेश विधनासभा चुनाव के लिहाज से आजतक डॉट इन अपने पाठकों के लिए राज्य की हर सीट का हाल लेकर आया है. आगामी चुनाव से पहले मध्य प्रदेश की 230 सीटों पर किसका पलड़ा भारी है और कहां से कौन सी पार्टी जीतती आई है, यह सभी आंकड़े हम आपको मुहैया करा रहे हैं.

9

मध्य प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही दलों को नेता जोर-शोर से प्रचार में जुट गए हैं. राजधानी भोपाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी रैली कर प्रचार अभियान का आगाज कर चुके हैं. राज्य में दोनों ही दल जीत के लिए दांव खेल रहे हैं और कांग्रेस चाहती है कि 15 साल का सूखा खत्म कर सत्ता में वापसी करे.

सीधी जिले के अंतर्गत आने वाली देवसर विधानसभा सीट पर पिछले 15 साल से बीजेपी का कब्जा है. वर्तमान में यहां से पार्टी नेता राजेंद्र मेश्राम विधायक हैं. करीब 2.13 लाख वोट वाली यह सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है. इलाके में अनुसूचित जाति, आदिवासी, ठाकुर और साहू वोट बहुतायत में हैं और इन्हीं की बदौलत मेश्राम को पिछले चुनाव में जीत मिली थी.

2013 चुनाव के नतीजे

बीजेपी के राजेंद्र मेश्राम- 64217 वोट

निर्दलीय वंशमणि प्रसाद वर्मा- 31003 वोट

2008 चुनाव के नतीजे

बीजेपी के रामचरित्र वर्मा- 54404

कांग्रेस के वंशमणि प्रसाद वर्मा- 19881 वोट

मध्यप्रदेश की ज्यादातर सीटों पर मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है. यहां 2003 से बीजेपी की सरकार है और इससे पहले 10 साल तक कांग्रेस ने राज किया था. 2013 के विधानसभा चुनाव में कुल 230 विधानसभा सीटों में से बीजेपी ने 165 सीटें जीतकर सरकार बनाई थी. कांग्रेस 58 सीटों तक सिमट गई थी. जबकि बसपा ने 4 और अन्य ने 3 सीटों पर जीत हासिल की थी.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.