21 साल तक जिन्हें अपना समझ पाला उनका पिता कोई और निकला, असली की तलाश के लिए किया बड़े इनाम का ऐलान

ब्रिटेन के नॉर्थ वेल्स में रहने वाले अरबपति रिचर्ड मैसन की जिंदगी अपने 3 बच्चों और पत्नी केट मैसन के साथ सामान्य जिंदगी जी रहे थे। मगर 2016 का साल उनकी जिंदगी में भूचाल लेकर आया।

5

ब्रिटेन के नॉर्थ वेल्स में रहने वाले अरबपति रिचर्ड मैसन की जिंदगी अपने 3 बच्चों और पत्नी केट मैसन के साथ सामान्य जिंदगी जी रहे थे। मगर 2016 का साल उनकी जिंदगी में भूचाल लेकर आया। डॉक्टरी जांच में रिचर्ड को पता चला कि उन्हें सिस्टिक फाइब्रोसिस नाम की आनुवांशिक बीमारी है। इसके कारण वह कभी पिता बन ही नहीं सकते हैं।

इस खबर से उनकी दुनिया में उथल-पुथल मच गई। पेशे से बिजनेसमैन और मनी सुपर मार्केट डॉट कॉम के को फाउंडर रिचर्ड के लिए यह मानना काफी मुश्किल था कि उनकी पूर्व पत्नी केट ने उन्हें धोखा दिया है। इस खुलासे से वह बुरी तरह टूट गए। बाद में डीएनए की भी जांच हुई, जिसमें यह पुष्‍ट हुआ कि 19 साल के जुड़वा बेटे रिचर्ड के नहीं हैं।

रिचर्ड की इस कहानी में जबरदस्त ट्विस्ट है। दरअसल रिचर्ड का अपनी पहली पत्नी से पहले ही तलाक हो गया था। तलाक से पहले दोनों के तीन बच्चे थे। उन्होंने एमा से दूसरी शादी की और दोनों अपने बच्चे की प्लानिंग कर रहे थे। इसी दौरान हुई डॉक्टरी जांच में रिचर्ड को पता चला कि रिचर्ड को सिस्टिक फाइब्रोसिस नाम की आनुवांशिक बीमारी है, जिसके कारण वह कभी पिता नहीं बन सकते हैं।

रिचर्ड और केट के तलाक का मामला जब कोर्ट में पहुंचा तो केट ने तलाक की वजह किसी और से अफेयर होना बताया। इस मामले में कोर्ट ने केट को जुर्माने और सेटलमेंट के तौर पर करीब 2.21 करोड़ रुपये से ज्यादा चुकाने को कहा। केट ने तलाक के 10 साल बाद कबूल किया कि रिचर्ड उनके बच्चों के पिता नहीं हैं। मगर वह बच्चों के असली पिता का नाम उजागर नहीं करना चाहती थीं। कोर्ट ने उनकी बात रखते हुए कहा कि यह वह चाहें तो बच्चों के असली पिता का नाम कभी जाहिर न करें।

ब्रिटिश अखबार द सन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक रिचर्ड अब बच्चों के असली पिता का नाम जानना चाहते हैं और इसकी जानकारी देने वाले को उन्होंने 6.33 लाख रुपये इनाम देने का ऐलान किया है। उनका कहना है कि बच्चे अपने असली पिता का नाम जरूर जानना चाहेंगे।

एक अन्य ब्रिटिश अखबार से बातचीत में रिचर्ड ने कहा कि मैं आज भी बच्‍चों को फेसबुक पर देखता रहता हूं। बीते दिनों बड़े बेटे की ग्रैजुएशन सेरेमनी थी। मगर इसमें मुझे नहीं बुलाया गया था। अगर मेरे पास कोई जादू की छड़ी होती, तो मैं हमेशा उनके साथ ही रहता। मगर तलाक और पेटर्निटी केस के कारण बच्चों के साथ मेरे रिश्ते बहुत खराब हो चुके हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.