सेना ने ड्रोन से ढूंढा मारे गए पाक BAT घुसपैठियों का शव, पहनी हुई थी आर्मी की वर्दी

जम्मू-कश्मीर के नौगाम सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास दो घुसपैठियों को ढेर कर भारतीय सेना ने सीमावर्ती चौकी को निशाना बनाने की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) की एक बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया।

8

जम्मू-कश्मीर के नौगाम सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास दो घुसपैठियों को ढेर कर भारतीय सेना ने सीमावर्ती चौकी को निशाना बनाने की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) की एक बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया। समझा जाता है कि मारे गए दोनों घुसपैठिये पाकिस्तानी सैनिक थे। पाक सेना नए साल पर बड़े हमले की फिराक में थी। सेना ने बताया कि 30 दिसंबर को बैट की टुकड़ी घने जंगलों का फायदा उठाकर भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश कर रही थी। सेना ने ड्रोन से उसके शवों का पता लगाया।
सेना से मिली जानकारी में बताया गया कि घुसपैठियों ने जिस तरह की पोशाक पहन रखी थी, वो पाकिस्तान की सेना की नियमित वर्दी जैसी थी। उनके पास से पाकिस्तान के चिह्नों वाला सामान बरामद हुआ था। कुछ घुसपैठियों को बीएसएफ और पुराने पैटर्न वाली आइए ड्रेस में भी देखा गया। बरामद की गई चीजों से यह अंदेशा लगाया जा रहा है कि उनका इरादा भारतीय सेना पर भीषण हमला करने का था। इस बीच सेना ने पाकिस्तान से अपने मारे गए सैनिकों के शवों को लेकर जाने के लिए कहा है।

सेना पर थी बड़े हमले की साजिश
जानकारी के मुताबिक, बैट की एक टुकड़ी ने नियंत्रण रेखा के पास घने जंगलों का फायदा उठा कर भारतीय हिस्से में आने की कोशिश की। इस दौरान उन्हें पाकिस्तानी चौकियों से मोर्टार और रॉकेट लॉन्चर जैसे भारी हथियारों से कवरिंग फायर के जरिये मदद मिली। उन्होंने कहा, नियंत्रण रेखा के पास तैनात सतर्क भारतीय सेना के सैनिकों ने इसे भांप लिया और उनको मुंह की खानी पड़ी।

पाक रेंजर्स दे रहे थे कवर फायरिंग
पाकिस्तान की ओर से शुरू की गई गोलीबारी का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया गया और रात भर यह गोलीबारी चली। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे सैनिकों ने स्थिति का पता लगाने के लिए घने जंगल में तलाश अभियान चलाया, जिसमें दो संभावित पाकिस्तानी सैनिकों के ढेर होने की पुष्टि की गई और हथियारों का जखीरा बरामद किया गया।’’

दो पाक सैनिकों के शव मिलने की पुष्टि
पाकिस्तानी गोलीबारी, खराब मौसम और कम दृश्यता का फायदा उठा कर कुछ अन्य घुसपैठियों के सीमा पार भाग जाने की खबर भी है। सेना के प्रवक्ता ने बताया ‘‘घुसपैठिये पाकिस्तानी सैनिकों की तरह वर्दी पहने हुए थे। उनके पास जो सामान था उसमें पाकिस्तान लिखा हुआ था। उनके पास आईईडी, अन्य विस्फोटक तथा हथियार थे। बाद में ड्रोन के जरिए पाकिस्तानी बैट सैनिकों के शव बरमाद हुए हैं।”

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.