सिद्धार्थनगर 16 अगस्त ,जिले मे नदियो की बाढ़ से 57 गांव कई दिनो से चारो तरफ पानी से घिरे हुए है

16

सिद्धार्थनगर 16 अगस्त ,जिले मे नदियो की बाढ़ से 57 गांव कई दिनो से चारो तरफ पानी से घिरे हुए है तथा 152 गांव बाढ़ से प्रभावित हो गये है।नदी का जल स्तर बढ़ने से नागरिक भयभीत हो गये है।
आज यहां यह जानकारी देते हुए सरकारी सूत्रो ने बताया है कि बांनगंगा बैराज नदी का दबाव तटवर्ती बन्धे लखनापार पर निरन्तर बना हुआ है।
राप्ती नदी खतरे के बिन्दु से उपर बह रही है।नौगढ़ तहसील में 83, बांसी में 09 तथा शोहरतगढ़ में 60 गाॅव बाढ़ से प्रभावित हो गये है।
इटवा तहसील मे अशोगवा मदरहवा बन्धे मे गैप हो गया है बन्धे को बचाने के लिए बाढ़ खण्ड द्धारा तेजी से कार्य किया जा रहा है।लगभग 200 एकड़ फसल बाढ़ की पानी मे डूब गया है,पशुओ को चारे का संकट पैदा हो गया है।
जिले के नौगढ़ तहसील के 31, बांसी तहसील के 03 तथा शोहरतगढ़ के 23 गांव मैरूण्ड है।बांनगंगा , बूढ़ी राप्ती , राप्ती , घोरही नदी के तटवर्ती क्षेत्र के 20 से अधिक ग्रामो को खतरा पैदा हो गया है।राप्ती नदी सहित अन्य चार नदियां खतरे के बिन्दु से उपर बह रही है।
सरकारी सूत्रो ने बताया है कि जिलाप्रशासन और बाढ़ खण्ड कार्य द्धारा निरन्तर चैकसी बरती जा रही है कटान रोकने के लिए तेजी से कार्य चल रहा है।जिलाप्रशासन द्धारा नागरिको के सहायतार्थ शोहरतगढ़ तथा नौगढ़ मे दो-दो मोटर वोट लगाये गये।वही सांसद जगदमविका पाल जी ने उसका के फुलवरिया, नगवा करच्छुलिया, में जाकर बाढ़ का जायजा लिया व लोगो मे साड़ी, नमक,मारचीस, चाय पत्ती,बिस्कुट,अन्य सामग्री ग्रामीडो में वितरित किया । आगे रास्ता न होने की वजह से सांसद जी ने नाव में बैठ कर अन्य गांवों का भरमड किया व लोगो की समस्या को सुना व जल्द से जल्द ही बाढ़ से निजात डोलने का वादा भी किया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.