विदेशी आइएस आतंकियों के कई परिवार इराक के कब्जे में

10

इराकी सुरक्षा बलों ने 1,300 से ज्यादा विदेशी महिलाओं और बच्चों को पकड़ा है। ये लोग आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) के आतंकियों के पारिवारिक सदस्य बताए जा रहे हैं। इन्हें उत्तरी इराक में विस्थापित लोगों के एक शिविर में रखा गया है।

अधिकारियों ने रविवार को यहां बताया कि इराकी बलों ने अगस्त के आखिर में मोसुल से करीब 70 किमी दूर ताल अफर शहर को आइएस से मुक्त कराया था। इस दौरान 14 देशों के 1,333 लोगों ने सुरक्षा बलों के समक्ष आत्मसमर्पण किया था। इन महिलाओं और बच्चों को आतंकियों के अपराधों के लिए आरोपी नहीं बनाया जाएगा। उन्हें संभवत: उनके देश वापस भेज दिया जाएगा। पकड़े गए ज्यादातर लोग मध्य एशिया, रूस और तुर्की के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

हजारों विदेशी नागरिक इराक और सीरिया में आइएस के कब्जे वाले इलाके में रहने के लिए आए थे। ताल अफर जून, 2014 से आइएस के कब्जे में था। यह इराक में आइएस का अंतिम शहरी गढ़ था। अमेरिकी गठबंधन और कुर्द बलों की मदद से इराकी फौज ने इस साल जुलाई में देश के दूसरे बड़े शहर मोसुल को आइएस से मुक्त कराया था। इसके लिए पिछले साल अक्टूबर से बड़े पैमाने पर सैन्य अभियान चलाया गया था।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.