लॉर्ड्स टेस्ट में बल्लेबाजों के बाद गेंदबाजों का भी सरेंडर, इंग्लैंड को 250 रन की बढ़त

टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेला जा रहा है. टीम इंडिया अपनी पहली पारी में 35.2 ओवर में 107 रन पर ढेर हो गई. जिसके जवाब में इंग्लैंड की टीम ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक 6 विकेट गंवा कर 357 रन बना लिए हैं.

5

क्रिस वोक्स (नाबाद 120) और जॉनी बेयर्सटो (93) के बीच छठे विकेट के लिए हुई 189 रनों की साझेदारी के दम पर इंग्लैंड ने यहां लॉर्ड्स मैदान पर खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन खराब शुरुआत से बाहर निकलते हुए भारत के खिलाफ अपनी स्थिति मजबूत कर ली.

खराब रोशनी के कारण अंपायरों ने तीसरे दिन का खेल समय से पहले समाप्त करने की घोषणा की. इंग्लैंड ने स्टम्प्स तक छह विकेट के नुकसान पर 357 रन बनाकर भारत पर 250 रनों की मजबूत बढ़त ले ली है. दूसरे दिन इंग्लैंड ने मेहमान टीम को 107 रनों पर ढेर कर दिया था.

तीसरे दिन अपनी पहली पारी खेलने उतरी इंग्लैंड का ऊपरी क्रम पहले सत्र में ढह गया. भारतीय गेंदबाजों ने पहले सत्र में इंग्लैंड के चार विकेट 89 रनों पर चटका दिए. वहीं दूसरे सत्र में इंग्लैंड ने एक विकेट खोया, लेकिन इसी सत्र में वोक्स और बेयर्सटो ने विकेट पर अपने पैर जमा लिए और चायकाल की घोषणा तक अर्धशतक भी पूरे कर लिए.

वोक्स का शतक

तीसरे सत्र में वोक्स ने अपना पहला टेस्ट शतक पूरा किया. वोक्स ने पांड्या द्वारा फेंके गए 71वें ओवर की आखिरी गेंद पर तीन रन लेकर सैंकड़ा पूरा किया. हालांकि बेयर्सटो शतक से सात रनों से चूक गए. उन्हें हार्दिक पंड्या ने तीसरे सत्र में 320 के कुल स्कोर पर आउट किया. बेयर्सटो ने अपनी पारी में 144 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके लगाए. वोक्स अभी तक अपनी पारी में 159 गेंदें खेल 18 चौके लगा चुके हैं. उनके साथ सैम कुरैन 24 गेंदों में चार चौके लगाकर 22 रनों पर नाबाद हैं.

सबसे बड़ी साझेदारी

वोक्स और बेयर्सटो के बीच हुई यह साझेदारी भारत के खिलाफ इंग्लैंड की टेस्ट में छठे विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है. इससे पहले इयान बोथम और टेलर ने मुंबई में 1980 में भारत के खिलाफ इंग्लैंड के लिए छठे विकेट के लिए 171 रन जोड़े थे.

गेंदबाजों का सरेंडर

दूसरे सत्र में मोहम्मद शमी ने 131 के कुल स्कोर पर जोस बटलर (24) को आउट पर भारत को पांचवीं सफलता दिलाई लेकिन इसके बाद भारतीय गेंदबाज बेयर्सटो और वोक्स को विकेट पर पैर जमाने से नहीं रोक पाए.

पहला दिन बारिश के कारण धुलने के बाद दूसरे दिन बारिश के कारण आधे दिन का ही खेल हो सका था. आधे दिन में ही इंग्लैंड ने जेम्स एंडरसन के पांच विकटों के दम पर भारत को जल्दी समेट दिया था.

दूसरे दिन हालांकि मौसम बदला और गेंदबाजों को उस तरह की मदद नहीं मिली जैसी पहले दिन मिल रही थी. अपनी पहली पारी खेलने उतरी मेजबान टीम हालांकि बदली हुई स्थिति में भी अच्छी शुरुआत नहीं कर सकी. इंग्लैंड ने अपना पहला विकेट 28 के कुल स्कोर पर केटन जेनिंग्स (11) के रूप में खो दिया. जेनिंग्स को मोहम्मद शमी ने पवेलियन की राह दिखाई.

दूसरे सलामी बल्लेबाज एलिस्टर कुक (21) को चार रन बाद ईशांत शर्मा ने विकेट के पीछे दिनेश कार्तिक के हाथों कैच कराया.

डेब्यू कर रहे ओली पोप ने बिगड़ती दिख रही स्थिति में संयम के साथ बल्लेबाजी की और कप्तान जोए रूट (19) के साथ टीम को संभालने की कोशिश की और तीसरे विकेट के लिए 45 रन जोड़े. पोप 77 के कुल स्कोर पर पंड्या की गेंद पर एलबीडब्ल्यू करार दे दिए गए. उन्होंने 38 गेंदों की पारी में तीन चौके की मदद से 28 रन बनाए. रूट को शमी ने आउट कर पहले सत्र का अंत किया. भारत की तरफ से शमी अभी तक तीन विकेट ले चुके हैं. पंड्या के हिस्से दो विकेट आए हैं. ईशांत एक विकेट चटकाने में सफल रहे हैं.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.