रंजन गोगोई बने देश के नए चीफ जस्टिस, पहले दिन इन मामलों की करेंगे सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट में पिछले कुछ दिनों में कई ऐतिहासिक फैसले हुए हैं. अभी भी कई ऐसे मामले लगातार जारी हैं जिनपर देश की निगाहें हैं. अब सभी की नजरें देश के नए मुख्य न्यायाधीश पर टिकी हैं.

5

सुप्रीम कोर्ट के नए मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई का कार्यकाल आज से शुरू हो गया है. मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रंजन गोगोई को चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया के पद की शपथ दिलवाई. मंगलवार को जस्टिस दीपक मिश्रा का बतौर CJI कार्यकाल खत्म हुआ.

आज सुप्रीम कोर्ट में कई अहम मामलों की सुनवाई भी होगी. जिनमें राजधानी दिल्ली में हो रही सीलिंग, जेलों में रिफॉर्म और चुनाव से जुड़े मामले भी शामिल हैं. जस्टिस रंजन गोगोई सुप्रीम कोर्ट के 46वें मुख्य न्यायाधीश हैं. अब चीफ जस्टिस के साथ जस्टिस संजय किशन कौल और के एम जोसफ बैठेंगे.

बता दें कि 12 फरवरी 2011 को जस्टिस गोगोई पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस बने थे. 23 अप्रैल 2012 को वह सुप्रीम कोर्ट में आए. बताया जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर जस्टिस गोगोई का कार्यकाल एक साल, एक महीने और 14 दिन का होगा. वह 17 नवंबर 2019 को सेवानिवृत्त होंगे.

आज कई अहम मामलों की सुनवाई

दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में पेश होंगे. सीलिंग के मुद्दे पर राजधानी में राजनीति चरम पर है. मनोज तिवारी ने सोमवार को हलफनामा दायर किया. SC में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि गैर कानूनी तरीके से होने वाली सीलिंग के खिलाफ सांकेतिक विरोध दर्ज कराने के लिए उन्होंने सील से छेड़छाड़ की थी. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो मैं सीलिंग अफसर बनने को भी तैयार हूं.

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट में आज चुनावी प्रक्रिया से जुड़ी एक याचिका पर सुनवाई होगी. इस याचिका में मांग की गई है कि MLC को भी अपने खर्च की जानकारी भी देनी चाहिए.

इसके साथ ही जेल में सुधारों से जुड़ी एक याचिका पर भी सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा. इस मामले की पिछली सुनवाई में कोर्ट ने एक तीन सदस्य कमेटी का गठन किया था.

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.