नोएडा: 13 प्रोजेक्ट निदेशकों के खिलाफ केस दर्ज, फ्लैट खरीददारों के साथ करोड़ों की हेराफेरी का है आरोप

पीआरओ ने बताया कि फ्लैट खरीदारों की शिकायत के आधार पर आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ थाना बिसरख में 8 मामले दर्ज हुए हैं।

10

नोएडा पुलिस ने फ्लैट खरीदारों के साथ धोखाधड़ी करके करोड़ों रूपये की हेराफेरी करने वाले बिल्डरों के खिलाफ मामला दर्ज करना शुरू कर दिया है। बीती रात को नोएडा के छह थाना क्षेत्रों में 13 प्रोजेक्ट के निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। इसमें से नौ मामले तो सिर्फ आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ हैं। एक मामला सुपरटेक बिल्डर के खिलाफ जबकि तीन मामले अन्य बिल्डर के खिलाफ हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पीआरओ प्रभात दीक्षित ने बताया कि 31 अगस्त को ग्रेटर नोएडा आए मंत्रियों के समूह के सामने सैकड़ों की संख्या में फ्लैट खरीदारों ने अपनी समस्या रखी थी। खरीदारों ने मांग की थी कि उनके साथ धोखाधड़ी करके उनके पैसे पर ऐश करने वाले बिल्डरों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। मंत्री समूह ने पुलिस को इस मामले में मामला दर्ज करने के लिए कहा था।

पीआरओ ने बताया कि फ्लैट खरीदारों की शिकायत के आधार पर आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ थाना बिसरख में 8 मामले दर्ज हुए हैं। थाना सेक्टर 49 में भी आम्रपाली सिलिकॉन सिटी के खरीदारों की शिकायत पर मामला दर्ज हुआ है। इन मामलों में आम्रपाली बिल्डर के निदेशक अनिल शर्मा एवं अन्य डायरेक्टरों का नाम आरोपियों में हैं। जबकि थाना बिसरख में सुपरटेक बिल्डर के इको विलेज टू के निवेशकों की शिकायत पर मामला दर्ज हुआ है। वहीं थाना सूरजपुर में एकदंत वेलफेयर सोसाइटी ,थाना कासना में टेक्नो सिटी अपार्टमेंट, थाना एक्सप्रेसवे में टुडे होम्स एवं थाना फेस 3 में द पार्क एवेन्यू नामक बिल्डर के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.