टेस्ट और वनडे सीरीज के बाद भारत ने श्री लंका को टी20 में भी हराया, 7 विकेट से जीता मैच

10

कोलंबो टेस्ट और वनडे सीरीज में श्री लंका का सफाया करने के बाद टीम इंडिया ने एकमात्र टी20 मैच में भी मेजबान टीम को हरा दिया। कोलंबो के आर. प्रेमदासा स्टेडियम में भारतीय टीम ने कप्तान विराट कोहली के तूफानी 82 रन और मनीष पांडे की नाबाद हाफ सेंचुरी (51*) की बदौलत श्री लंका को 7 विकेट से हराया। श्री लंका के 170 रनों के जवाब में मेहमान टीम ने 3 विकेट खोकर 19.2 ओवर में लक्ष्य को हासिल कर लिया। इस जीत के साथ भारत ने इस दौरे पर क्रिकेट के तीनों ही फॉर्मेट में अजेय रहने का रेकॉर्ड अपने नाम कर लिया। मेजबान टीम उसे किसी भी फॉर्मेट में मात नहीं दे पाई। भारतीय टीम ने इस दौरे पर पहले टेस्ट सीरीज में 3-0 से जीत हासिल की। उसके बाद वनडे सीरीज में 5-0 से सूपड़ा साफ किया और अब एकमात्र टी20 मैच में भी जीत दर्ज की। इस तरह टीम इस दौरे पर 9-0 से अजेय रही। भारत पहली मेहमान टीम है, जिसने श्री लंका आकर तीनों फॉर्मेट के सभी मैच जीते हैं। कोहली को मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज का खिताब दिया गया। भारतीय पारी की शुरुआत केएल राहुल और रोहित शर्मा ने की। तीसरे ही ओवर में रोहित शर्मा आउट हो गए। टीम का स्कोर जब 22 रन था तब लसिथ मलिंगा ने उन्हें परेरा के हाथों कैच कराया। इसके बाद कप्तान कोहली के साथ राहुल पिच पर जमते हुए दिखे, लेकिन शनका ने शानदार कैच लपकर केएल राहुल को पविलियन का रास्ता दिखाया। इसके बाद कोहली और मनीष पांडे ने गेंदबाजों की जमकर खबर ली। दोनों ही बल्लेबाजों ने मैदान के चारो ओर शॉट्स लगाए। विराट कोहली ने 30 गेंदों में टी20 करियर की 17वीं हाफ सेंचुरी पूरी की। जब टीम को जीत के लिए महज 10 रनों की जरूरत थी, कप्तान गेंद को सीमा रेखा के बाहर भेजने के प्रयास में कैच आउट हो गए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.