अमृतसर में पंजाब सरकार की ओर से लगाया गया दूसरा जॉब मेला

हजारों की गिनती में युवाओं ने की शिरकत लेकिन नौकरी ना मिलने के लगाए आरोप

8

पंजाब सरकार का घर घर नौकरी देने का वायदा न हो सका पूरा

2017 में पंजाब सरकार की ओर से घर घर नौकरी देने का वायदा किया गया था जिसको पूरे करने के लिए अमृतसर में आज दूसरी बार जो मेला लगाया गया जिसमें हजारों की गिनती में नौजवान पहुंचे और कईयों को आज पंजाब सरकार की ओर से नौकरी भी दी गई वहीं इस मौके पर शिक्षा मंत्री व पर्यावरण मंत्री ऑफिस होनी मुख्य तौर पर पहुंचे उनके साथ अमृतसर के डीसी और एसडीएम भी मौजूद थे वहीं मीडिया से बात करते हुए ओम प्रकाश सोनी ने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से घर घर नौकरी देने का वायदा किया गया था जिसको पूरा करने के लिए पंजाब सरकार हर एक संभव कोशिश कर रही है उन्होंने कहा कि पंजाब में करीब साडे तीन लाख नौकरी पहले ही पंजाब सरकार दे चुकी है अब बाकी 3:30 सालों में हम लोग पंजाब के सभी नौजवानों को नौकरी देने का जो वायदा किया गया था उसको पूरा कर देंगे वहीं उन्होंने कहा कि पहले हम लोग 5000 से लेकर 7000 तक की नौकरी बच्चों को दे रहे हैं क्योंकि जिस तरह का बच्चे की पढ़ाई होगी और योगिता के तहत ही उनको नौकरी दी जाएगी वहीं उन्होंने कहा कि हम लोग पर वाई प्राइवेट आधारओं के साथ मिलकर हर एक बच्चों को नौकरी देने का कहा है उसको पूरा भी करेंगे।

युवाओं ने किया सरकार का विरोध

वहीं इस मौके पर बच्चों के द्वारा सरकार का विरोध भी किया गया और उन्होंने कहा कि हम लोग पढ़े लिखे होने के बावजूद 5 से 7000 पर नौकरी करने के लिए मजबूर हैं और जो नेता हैं वह 70 से लेकर ₹80000 लेते हैं उन्होंने कहा कि हम लोग पहले भी चंडीगढ़ जा कर यह जॉब मेले में शिरकत कर चुके हैं लेकिन अभी तक हमें नौकरी नहीं मिल पाई इसलिए पंजाब सरकार जो है वह ढोंग कर रही है नौकरी देने के मामले पर उन्होंने कहा कि हम लोग 2019 में जो चुनाव होने हैं हम लोग सरकार को वोट नहीं डालेंगे क्योंकि सरकारें वोट लेने के लिए झूठे झूठे वायदे करती हैं उन्हें अब लगता है कि पंजाब सरकार ने हमारे साथ झूठ बोला था और हमें नौकरी नहीं मिलेगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.