अफेयर में रोड़ा बन रहा था PRD जवान, प्रेमी ने प्रेमिका के साथ मिलकर कर दी हत्या

अफेयर में रोड़ा बनने के चलते चलते पीआरडी जवान की हत्या की गई थी। इस बात को खुद वारदात को अंजाम देने वाले अभियुक्त ने पुलिस की जांच में बताया है।

9

अफेयर में रोड़ा बनने के चलते चलते पीआरडी जवान की हत्या की गई थी। इस बात को खुद वारदात को अंजाम देने वाले अभियुक्त ने पुलिस की जांच में बताया है। सप्ताह भर पूर्व लम्भुआ कोतवाली क्षेत्र में देशी शराब की दुकान के बगल धान की भूसी में पीआरडी जवान का शव पाया गया था। पुलिस ने आला कत्ल के साथ सभी पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। इन अभियुक्तों में प्रेमी और प्रेमिका भी शामिल हैं।

पुलिस ने अभियुक्तों को गिरफ्तार कर प्रथम दृष्या जो जांच की उसमे अभियुक्त राम सिंह उर्फ भोले ने कई अहम राज उगले। राम सिंह ने बताया कि नरेन्द्र प्रताप की पुत्री कुमारी सोना सिंह उर्फ निधि उर्फ के साथ उसकी बातचीत होती थी। मृतक विनोद कुमार उर्फ गुड्डन सिंह द्वारा नरेन्द्र प्रताप के घर जाकर सुधा के साथ आपत्तिजनक टिप्पणी की जाती थी। जिस कारण सुधा, कुमारी सोना एवं आशीष सिंह ने उसे विनोद कुमार उर्फ गुड्डन सिंह के हत्या करने के लिए बोला। इस पर उसने 7-8 दिसम्बर की रात अपने मित्र देवा उर्फ देवानन्द सिंह के साथ मिलकर मृतक विनोद कुमार उर्फ गुड्डन सिंह को शराब पीला कर उसकी हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार राम सिंह ने पूर्व में दो लूट की वारदातों को भी अंजाम दिया है।

प्रेमिका की मां और भाई भी हुए गिरफ्तार स्थानीय कोतवाली पुलिस और स्वाट टीम ने अभियुक्त राम सिंह से पड़ताल करने के बाद सर्विलांस की मदद से एक एक कर सभी पांचो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर वर्कआउट किया है। पुलिस ने कोतवाली लम्भुआ के चौकिया गांव निवासी आशीष सिंह पुत्र नरेन्द्र प्रताप सिंह, सुधा पत्नी नरेन्द्र प्रताप सिंह, कुमारी सोना सिंह उर्फ निधि उर्फ मोनी और देवा उर्फ देवानन्द सिंह व राम सिंह उर्फ भोले को जेल भेजा है। इनके पास से हत्या में प्रयुक्त 2 सरिया, 1 अदद चाकू, 1 डिस्कवर बाइक और एक बाइक बरामद हुई है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.